उत्तर प्रदेश/ उत्तराखण्ड प्रदेश बॉलीवुड

इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल 2018, मिनी बॉलीवुड बना देहरादून

देहरादून(News Plus World): देहरादून मे चौथे अंतरराष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल का सिल्वर सिटी मल्टीप्लेक्स में शुभारंभ हुआ। मुख्य अतिथि कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, मशहूर फिल्म निर्देशक रमेश सिप्पी और किरन जुनेजा समेत फिल्म जगत से जुड़ी तमाम हस्तियों ने दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

सिल्वर सिटी में फिल्म फेस्टिवल का शुभारंभ कैबिनेट मंत्री कौशिक ने किया और उन्होने कहा कि उत्तराखंड में फिल्म उद्योग के लिए जरूरी सभी संसाधन और सुविधाएं उपलब्ध हैं। यहां की शानदार लोकेशन फिल्मकारों को पसंद भी आ रही हैं। यही कारण है कि पिछले कुछ समय में यहां फिल्म निर्माण में खासी तेजी आई है। उन्होंने कहा कि सरकार भी फिल्म उद्योग को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है।

फिल्म निर्देशक और निर्माता रमेश सिप्पी ने उत्तराखंड के कलाकारों की सराहना की। उन्होंने कहा कि फिल्म उद्योग में भी बड़ी संख्या में प्रदेश के लोग काम कर रहे हैं। उन्होंने अपनी प्रतिभा और मेहनत के दम पर खुद को साबित किया है।

फेस्टिवल के डायरेक्टर राजेश शर्मा ने कहा देहरादून (उत्तराखंड) में लगातार चार सालों से फेस्टिवल कर रहे है।  हर एक साल पिछले साल के मुकाबले अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है। उन्होंने देहरादून और उत्तराखंड के लोगो का धन्यवाद किया जिनकी वजह से हम फेस्टिवल को करने में सफल रहे। फेस्टिवल डायरेक्टर ने कहा की अगले साल हम फिल्म फेस्टिवल को और अच्छा करने की कोशिश करेंगे जिससे देहरादून और उत्तराखंड के लोगो को फिल्म जगत से जुड़ने का मौका मिलेगा और फिल्म जगत को भी बढ़ावा मिलेगा।

फेस्टिवल के उद्घाटन के बाद 80 के दशक की सुपरहिट फिल्म सागर की स्क्रीनिंग की गई। फिल्म की स्क्रीनिंग में बड़ी संख्या में दर्शक मौजूद रहे। इसके अलावा किस्मत, मखमली, आरआईपी ह्यूमैनिटी, रागिनी, पांच साल, नूरी दी लाइट, ग्रीन मावेरिक्स, स्वच्छ भारत, प्लेज दी सेल्फ  कमिटमेंट, रफ्तार ए जिंदगी, पंखुड़ी, गढ़वाली फीचर फिल्म छोलियार रियल हीरो ऑफ  उत्तराखंड फुटबाल, बिसकिट्स स्ट्रे इन धूम, चुम्मी, डिफरेंट नॉट रॉंग और एफआईएएनई का प्रदर्शन किया गया।

फिल्म फेस्टिवल के पहले दिन बॉलीवुड के निर्देशक रमेश सिप्पी और उनकी पत्नी किरण जुनेजा, साथ ही निर्देशक विवेक वासवानी, अभिनेता शरमन जोशी, राजेंद्र गुप्ता, सुरेन्द्र पाल, हेमंत पांडेय, परेश गणतरा, देवेन भोजानी, ख़याली सहारन सहित कई कलाकार फिल्म फेस्टिवल मे शामिल हुए. DIFF का उद्देश्य फिल्म जगत मे नई प्रतिभा को एक मंच देने के साथ ही प्रदेश के युवाओं को फिल्म जगत से जोड़ना है.

फिल्म फेस्टिवल के दूसरे दिन छात्रों के लिए तुलाज इंस्टीट्यूट में वर्कशॉप आयोजित की गयी. इसमें फिल्म उद्योग से जुड़े कई सितारे शामिल रहे और उन्होने छात्रों को फिल्म निर्माण से जुड़ी विभिन्न जानकारियां दी,साथ ही उनके सवालों के जवाब भी दिए.


LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *